India News

Janta Curfew: पीएम मोदी ने पहले दिन को बताया लंबी लड़ाई की शुरुवात, कहा सेलिब्रेशन न मनाएं

Janta Curfew 22 March: मोदी सरकार ने महामारी से निपटने के लिए बड़ा कदम उठाया, साथ ही उन्होंने ऐसे वक्त में देश की जनता से अपील की है कि भगदड़ ना मचाएं, सरकार द्वारा हेल्पलाइन नंबर प्रोवाइड किया जा गया. जनता कर्फ्यू का पहला और महत्वपूर्ण नियम है कि किसी भी नागरिक को अनावश्यक घर से बाहर नहीं निकलना है.

पॉलिटिशियंस, उद्योगपतियों से लेकर सिनेमा के लोगों ने इस कदम को सराहनीय बताया और देश की जनता से अपील की है कि सेल्फ आइसोलेशन (Self Isolation) के जरिए ही इस वायरस से मुक्ति मिल सकती है. जिन लोगों ने आइसोलेशन का प्रोटोकॉल तोड़ा है उनकी खबरें लोगों के सामने हैं.

जनता कर्फ्यू के दिन वायरल हुई तस्वीरें व विडियोज बेहद निराशाजनक हैं, यूं तो कई हद तक लोगों ने घरों में रहने का फैसला किया लेकिन 5 बजे इस तरह कुछ ईलाकों में रैलियां निकालनी शुरू कर दी जैसे कोरोना पूरी तरह से खत्म हो चुका हो.

यह भी पढ़ें:  Sex Life during Coronavirus: एक्सपर्ट ने बताया यौन संबंध पर COVID 19 का असर, जानिए कैसे बरतनी है सावधानी

हालत इतने बद्दतर होते जा रहे हैं कि देश के 75 शहरों में लॉक डाउन का आदेश है. पूरे देश की बात करें तो अब तक 319 पॉजिटिव केसेज सामने आ चुके हैं, आज 3 मौतों के साथ बड़ा झटका लगा है. पंजाब, कर्नाटका, बिहार, दिल्ली, गुजरात में 1-1 व महाराष्ट्र में 2 की मौत हो चुकी है. बहरहाल 31 मार्च तक जनता कर्फ्यू को जारी रखने की अपील की गई है.

देश में बढ़ते आकड़ों को देखकर सभी जनता कर्फ्यू का समर्थन कर रहे हैं, पीएम मोदी ने देश की जनता से अपील की है, घबराएं नहीं सावधानी बरतें, सभी का घर पर ही रहना महत्वपूर्ण है, जिस शहर, नगर में हैं वहीं रहें, अनावश्यक यात्रा आपके व आपकी वजह से औरों के लिए भी खतरे भरी है.

पीएम मोदी ने जनता को डॉक्टर्स और अथॉरिटी की सुनने की सलाह दी है. जिन लोगों को सचेत किया गया है उनसे आग्रह किया है कि निर्देशों का पालन करें.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top