Gupteshwar Pandey: बिहार के पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय बने कथावाचक, पॉलिटिक्स के लिए लिया था वीआरएस लेकिन…

JBT Staff
JBT Staff June 27, 2021
Updated 2021/06/27 at 12:17 PM

Gupteshwar Pandey: अक्टूबर 2020 में उम्मीद की जा रही थी कि गुप्तेश्वर पांडेय विधासभा चुनावी मैदान में उतरेंगे लेकिन बाद में समीकरण बदलते नजर आए, पॉलिटिशियन वाला अवतार तो नहीं दिखा लेकिन एक कथावाचक के रूप में इन दिनों पूर्व डीजीपी साहब खूब सुर्खियां बटोर रहे हैं.

सीएम नीतीश कुमार से बढ़ती नजदीकियों के बाद अंदाजा लगाया जा रहा था कि वह इस बार पक्का बिहार के बक्सर विधानसभा सीट (Buxar) से चुनाव लड़ने जा रहे हैं, कयास तो ये भी लगाए जा रहे थे बिहार से बहुत प्रेम करने वाले डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) चुनाव के चलते ही वीआरएस ले रहे हैं क्योंकि वह बिहार की जनता के बीच जाकर सेवा देना चाहते हैं.

खैर राजनेता के तौर पर बिहार की जनता उन्हें देख पा रही है लेकिन उनका अध्यात्म वाला अवतार जरुर देखने को मिल रहा है. उनके बारे में बताया जा रहा है कि वह एक कथावाचक बन चुके हैं, प्रेरणादायक बातों के साथ ही वह कानून की धाराओं का भी ज्ञान बांट रहे हैं, आज के स्मार्ट दौर में वह ऑनलाइन प्रवचन शुरू कर चुके हैं.

सोशल मीडिया पर बिहार के पूर्व डीजीपी की ऐसी वीडियोज वायरल हो रही हैं जिनमें वह एकदम अलग अंदाज में नजर आ रहे हैं, एक बार के लिए तो नजरें भी धोखा खा जाएंगी कि वीडियो में दिखने वाले संत क्या वाकई किसी जमाने के रॉबिनहुड हैं.

कोरोना काल का ध्यान रखते हुए गुप्तेश्वर पांडेय ने ZOOM एप्लीकेशन के माध्यम से अपने चाहने वालों के संपर्क साधा है. गेरुआ वस्त्र धारण करते हुए पाण्डेय जी के गले में श्री राम लिखा हुआ एक गमछा भी है, उनका यह अवतार काफी धार्मिक लगता है. अब यह देखना होगा क्या वह फिर से राजनीति में कदम रखने की सोचते हैं या नहीं.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.