पंजाब: बोरवेल में गिरे 2 साल के बच्चे फतेहवीर सिंह की मौत, 109 घंटे चला था रेस्क्यू ऑपरेशन

JBT Staff
JBT Staff June 11, 2019
Updated 2019/06/11 at 10:58 AM

Punjab toddler Fatehveer Singh dies: साल 2006, कुरुक्षेत्र के प्रिंस की सबको याद होगी जिसका रेस्क्यू ऑपरेशन 48 घंटे चला था और कामयाबी हाथ लगी थी, इसके बाद भी लापरवाहियां बरती गयी जिसका दुष्परिणाम आज फतेहवीर सिंह को भुगतनी पड़ी.

आपको बता दें पंजाब के संगरूर में गुरुवार (6 जून) शाम 4 बजे के लगभग फतेहवीर सिंह (Fatehveer Singh) नाम का 2 साल का मासूम 125 फीट गहरे बोरवेल में गिर गया था, वह साथी बच्चों के साथ खेलते वक्त इस हादसे का शिकार हो गया था.

प्रशासन को जैसे ही इसकी सूचना मिली, बचाव के लिए पंजाब पुलिस और एनडीआरएफ की टीम तुरंत इस रेस्क्यू ऑपरेशन में जुट गए. गहराई इतनी ज्यादा थी कि पूरे 109 घंटे के बाद मासूम को जैसे तैसे बोरवेल से बहार निकाला गया लेकिन बठिंडा के किसी नजदीकी हॉस्पिटल में उसे डॉक्टरों ने मृत घोषित करार दे दिया.

फतेहवीर सिंह के बचाव में एनडीआरएफ (NDRF) ने ठीक बोरवेल के बगल से एक टनल खोदी, बच्चे को आज दिनांक 11 जून को सुबह 5 बजे के करीब बाहर निकाला गया था लेकिन वह जिंदगी की जंग हार गया.

बताया जा रहा है सोमवार 10 जून को वह ठीक 2 का हो गया था. NDRF के 26 जवानों ने फतेहवीर को बचाने के लिए जी जान लगा दी थी, सोशल मिडिया पर उसके लिए तमाम लोग दुआएं कर रहे थे.

पंजाब के सीएम कैप्टेन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर फतेहवीर की मौत पर दुख जताया है, वह लिखते हैं “फतेहवीर की मौत से बहुत आहत हूँ, मैं प्रार्थना करता हूँ कि इस बड़ी क्षति को सहने के लिए भगवान उसकी फैमिली को ताकत दे“.

यह पहला केस नहीं हैं, इस तरह के कई ऑपरेशन प्रिंस, 2006 के बाद हो चुके हैं. सरकार को इसके लिए अवश्य ही कुछ पुख्ता इन्तजाम करने होंगे.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.