India News

Delhi Riots: दिल्ली दंगों के आरोपी उमर खालिद पर UAPA के तहत कार्रवाई जारी, समर्थकों ने BJP नेताओं की याद भी दिलाई

Delhi Riots: संसोधित नागरिकता कानून के खिलाफ दिल्ली के जामिया इस्लामिया इंस्टिट्यूट व जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय के छात्र छात्राओं ने भारी विरोध प्रदर्शन जारी रखा था, देश के युवाओं को कनेक्ट करने की मुहीम भी जारी रखी थी, तभी शाहीन बाग में औरतें सड़कों पर आई तो वे भी मैदान पर पहुंच गए थे.

यहां शांतिपूर्वक विरोध प्रदर्शन चल ही रहा था कि लोग अपने अपने लीडरों के बहकावे में आ गए और अंत में दिल्ली के दंगों के हाथों 53 लोगों की बलि चढ़ गई. हाल ही में सितम्बर माह में जेएनयू के पूर्व छात्र उमर खालिद (Umar Khalid) को दिल्ली दंगों की साजिश में गिरफ्तार कर लिया था, दिल्ली पुलिस को केंद्रीय गृह मंत्रालय के बाद अरविंद केजरीवाल की भी मंजूरी मिल चुकी है.

यह भी पढ़ें:  Manoj Tiwary to Join TMC: क्रिकेटर मनोज तिवारी थामेंगे तृणमूल कांग्रेस का हाथ, खुद बोले क्रिकेट टीम में वापसी नामुमकिन

अधिकारियों ने कल शुक्रवार को जानकारी दी कि दिल्ली सरकार ने पुलिस को उमर खालिद के खिलाफ केस चलाने की मंजूरी दे दी है, इसके बाद खालिद के समर्थकों में बेहद नाराजगी है, उनका दिल्ली पुलिस व सरकार से सवाल है, अगर सफूरा जरगर, कफील खान, उमर खालिद, सुधा भरद्वाज जैसे क्रांतिकारी दंगे भड़काने के जिम्मेदार हैं तो भारतीय जनता पार्टी के अनुराग ठाकुर, कपिल मिश्रा, नकाबपोश कोमल शर्मा कैसे आजाद घूम रहे हैं.

दिल्ली पुलिस ने जानकारी दी है कि अनलॉफुल ऐक्टिविटीज (प्रिवेंशन) ऐक्ट (UAPA) के तहत खालिद पर गंभीर केस बन रहा है, पुलिस की तरफ से दर्ज केस में AAP द्वारा प्रॉसिक्यूशन की मंजूरी दे दी गई है, अतः अब दोनों सरकारों ने केस जारी रखने की अनुमति दे दी है. पिछले साल ही इस कानून में कड़ा बदलाव हुआ है, जांच के दौरान न सिर्फ संगठनों बल्कि व्यक्तियों को आतंकी करार किया जा सकता है.

यह भी पढ़ें:  Bihar: 11 साल की छात्रा के बलात्कारी प्रिंसिपल को मिली फांसी की सजा, प्रेग्नेंट हुई तो सामने आई थी करतूत

सोशल मीडिया पर गुस्साए उमर खालिद के समर्थक:

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top