Coronavirus: फेक न्यूज वायरल करने वाले हॉस्पिटल कर्मचारी को किया बर्खास्त

JBT Staff
JBT Staff March 16, 2020
Updated 2020/03/16 at 11:55 AM

Coronavirus: जबसे कोरोनावायरस ने चाइना से भारत की ओर रुख किया है तबसे फैक्ट्स से ज्यादा अफवाहों ने आदमी का जीना हराम किया है, यूं तो देश के कई शहरों में इस वायरस के पॉजिटिव केसज पाए गए हैं, कुल 105 की पुष्टि की जा चुकी है.

राजस्थान के दौसा जिले के बांदीकुई से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई, यूं तो सब कहा सुनी पर विश्वास करते हुए इस भयानक वायरस के समय में एक दूजे को सावधानी बरतने की सलाह दे रहे हैं. लगातार सोशल मीडिया पर कोरोना से संबंधित समाचार, उपाय फॉरवर्ड किए जा रहे हैं.

इनमें से कुछ लोग कोरोना के फर्जी दावे के साथ मेसेज फॉरवर्ड कर दे रहे हैं, ऐसे में राजस्थान प्रशासन ने फैसला किया है कि अफवाह फैलाने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी.

जी हां, खबर फैली कि बांदीकुई इलाके में कोरोना से 8 लोग प्रभावित पाए गए हैं, इससे इलाके में हडकंप मच गया, लोगों ने चिकत्सा विभाग व प्रशासन को लगातर फोन कर तंग कर दिया, वे सभी इस अफवाह की पुष्टि करना छह रहे थे.

इनमें से कुछ लोग कोरोना के फर्जी दावे के साथ मेसेज फॉरवर्ड कर दे रहे हैं, ऐसे में राजस्थान प्रशासन ने फैसला किया है कि अफवाह फैलाने वाले असामाजिक तत्वों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाएगी. ब्लॉक चिकित्साधिकारी डॉक्टर आरपी सिंह ने इस फेक न्यूज़ का खंडन किया.

इस फेक न्यूज़ को अंजाम देने वाले सीनियर ट्रीटमेंट सुपरवाइजर अनिल जो महुवा में कार्यरत हैं, को तुरंत बर्खास्त किया गया. प्रशासन ने लोगों से अपील की है कि किसी भी तरह की अफवाह को न फैलाएं.

राजस्थान प्रशासन ने कहा कि सोशल मीडिया पर पूरी तरह नजर बनी है, इस तरह के गंभीर मामले में कोई फेक न्यूज़ फैलाता है तो उसपर उचित कार्रवाई की जाएगी. बता दें, चाइना, न्यूयॉर्क, स्पेन, ईरान, इटली, फ्रांस, अमेरिका सहित 80 से ज्यादा देश इस वायरस के चपेट में आ चुके हैं.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.