Almora Mob Lynching: अल्मोड़ा मॉब लिंचिंग में 8 गिरफ्तार, सोशल मीडिया यूजर्स को पुलिस चेतावनी

JBT Staff
JBT Staff May 2, 2021
Updated 2021/05/02 at 10:08 AM

Almora Mob Lynching: अल्मोड़ा के दन्या थाना क्षेत्र के मामले में पुलिस ने सोशल मीडिया यूजर्स के लिए चेतावनी भरा संदेश जारी किया है, युवती की तस्वीर के साथ अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे न्याय के पुजारी बहुत जल्द कानूनी शिकंजे में फंस सकते हैं.

घटना है 29 अप्रैल, गुरुवार की जब एक 19 वर्षीय युवक अपने दो साथियों के साथ आरासल्फड़ गांव में युवती से मिलने चला गया, इस बीच युवती से मुलाकात करते हुए गांव वासियों ने उसे पकड़ लिया, एक के बाद एक गांव में लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा और लड़कों की मारपीट का सिलसिला काफी देर तक चला.

तीन युवकों में से ललित सिंह नाम का युवक भागने में सफल रहा जबकि भुवन चंद्र जोशी (19) व कैलाश सिंह (25) गांव वालों के चुंगल में फंस गए. मौके पर मौजूद गांव वालों में से ही किसी ने वीडियो शूट कर सोशल मीडिया पर दाल दी, यूं तो गांव में आशिक मिजाजी करने वालों को सबक सिखाने का इरादा था लेकिन दाव पूरा उल्टा पद गया, बुजुर्ग से बच्चे तक इस बर्बर कृत्य में शामिल हैं.

लड़की से मिलने आए युवक भुवन चंद्र जोशी को लहूलुहान कर दिया गया था, गांव वालों ने इसके बाद दोनों युवकों को पुलिस के हवाले कर दिया था, पुलिस ने उपचार के लिए दोनों को धौलादेवी के हॉस्पिटल में भर्ती कराया, इस दौरान घायल भुवन ने दम तोड़ दिया, बताया जा रहा है फर्स्ट ऐड के बाद उसकी हालत ठीक थी लेकिन अचानक गुम चोट ने उसकी जान लेली.

अल्मोड़ा पुलिस मामले से संबंधित हर अपडेट सोशल मीडिया के माध्यम से दे रही है, मुख्य आरोपी शिवदत्त पांडे सहित अब तक 8 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है. सोशल मीडिया के माध्यम से पुलिस ने उन लोगों को भी चेतावनी दे रहे हैं जो अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल करते हुए भुवन जोशी के लिए न्याय की मांग कार रहे हैं.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.