India News

Ajay Pathak & Family Murder: मशहूर गायक व परिवार की हत्या, अंतिम यात्रा में आए हजारों लोग रो पड़े

Ajay Pathak & Family Murder: इंटरनेशनल भजन गायक अजय पाठक के पूरे परिवार को खत्म करने वाले ने जुर्म कबूल कर दिया है, पोस्टमार्टम के बाद जब शवों की यात्रा निकली तो हर आंख नम दिखी.

हैरानी की बात यह है कि भजन गायक के ही चेले ने गुरु व पूरे परिवार को मौत की नीद सुला दिया, पति पत्नी व बेटी को धारदार हत्यार से काट डाला तो मासूम बेटे को उन्हीं के गाड़ी में अगवा कर जिंदा जला डाला.

2019 का आखिरी दिन अजय पाठक व परिवार के लिए भी आखिरी साबित हुआ, आदर्श मंडी थानाक्षेत्र में पंजाबी कालोनी का यह मामला हर किसी सुनने वाले को एक बुरा सपना सा लगा. अजय पाठक, पत्नी स्नेह, बेटी वसुंधरा व बेटे भागवत की मौत से शहर में सन्नाटा पसरा है.

यह भी पढ़ें:  Chennai: 10 साल की मासूम का रेप के बाद बर्बरता से कत्ल, पड़ोसी ने दिया घटना को अंजाम

जहां दुनिया नए साल का जश्न माना रही थी वहां शामली (Shamli) के लोग मशहूर भजन गायक के जाने से शोक में डूब गए. 1 तारीख की सुबह शहर के हर शख्स को मालूम पड़ा कि 31st की रात को पति पत्नी व बेटी की खून से लतपथ लाशें मिली हैं जबकि बेटे का जला शव मंगलवार देर रात को आग लगी उन्हीं के कार मिला.

मशहूर भजन गायक के मौत की खबर सुनते ही बड़े नेता जैसे सांसद प्रदीप चौधरी, दिग्गज कांग्रेस नेता इमरान मसूद, पूर्व विधायक राजेश्वर बंसल व आम जनों ने शव यात्रा में हिस्सा लिया.

किसने की हत्या?

हत्यारा कोई और नहीं बल्कि अजय का ही शिष्य निकला, हिमांशु नाम का यह चेला अजय पाठक के सबसे करीबी लोगों में से एक था. हिमांशु का कहना है उसने अजय पाठक से कुछ पैसे उधार मांगे क्योंकि उसे बैंक लोन चुकाना था लेकिन गुरूजी ने उसे इंकार कह दिया और अपशब्द कहे जिसके बाद उसे अपमानित महसूस हुआ.

यह भी पढ़ें:  COVID 19 India: देश में बढ़ते कोरोना के मरीज चिंता का विषय, महाराष्ट्र में 3 सौ के पार आकड़ा

अक्सर घर में रुक जाने वाला हिमांशु हत्या के दिन घर में रुका, खाना खाने के बाद गुरूजी के पैर भी दबाए लेकिन सर में खून सवार था कि आखिर कैसे गुरूजी से अपशब्द कहे, उसने घर में रखी तलवार व चाकू से तीनों को काट डाला जबकि हरियाणा पानीपत बॉर्डर से जली कार बरामद हुई जिसमें बेटे का शव मिला.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top