बालाकोट: इंडियन एयरफोर्स की एयर स्ट्राइक से पहले 300 मोबाइल थे एक्टिव, NTRO से मिली जानकारी

Umesh
Umesh March 5, 2019
Updated 2019/03/05 at 8:33 AM
Balakot air strike

बालाकोट में 26 फरवरी को इंडियन एयरफोर्स द्वारा आतंकियों के ठिकानों पर की गई एयरस्ट्राइक को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है. खबर है कि बालाकोट में एयर स्ट्राइक से पहले 300 मोबाइल एक्टिव थे.

14 फरवरी को पुलवामा आतंकी हमले का बदला लेते हुए भारतीय वायुसेना ने 12 दिन बाद 26 फरवरी को पीओके स्थित बालाकोट में आतंकियों के ठिकानों पर एयरस्ट्राइक की थी.

इस एयरस्ट्राइक में भारतीय वायुसेना के 12 मिराज-2000 विमान ने करीब आधे घंटे की कार्रवाई में आतंकियों के ठिकानों को तबाह कर दिया था. खबर आई थी कि इस एयरस्ट्राइक में 300 से ज्यादा आतंकी मारे गए हैं.

इस एयरस्ट्राइक के बाद से पूरा देश वायुसेना की हिम्मत और ताकत का गुणगान कर रहा है. विपक्षी पार्टियों ने भी कुछ दिन सेना की तारीफ की लेकिन अब उनके सुर बदल गए हैं.

इस एयर स्ट्राइक पर विपक्ष लगातार सवाल उठा रहा है. विपक्ष लगातार मोदी सरकार से इस एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों की जानकारी मान रहा है.

अब इस एयरस्ट्राइक को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है. NTRO (नेशनव टेक्निकल रिसर्च आर्गेनाइजेशन) के मुताबिक जिस वक्त बालाकोट में आतंकी ठिकानों को निशाना बनाया गया, उस वक्त यहाँ 300 से ज्यादा मोबाइल एक्टिव थे.

रिपोर्ट के मुताबित बालाकोट में आतंकियों के खिलाफ कार्यवाई से पहले सर्विलांस कराया गया था. ANI के मुताबित NTRO के अलावा भारत की और भी कई इंटेलिजेंस एजेंसीज ने इस कार्यवाई से पहले आतंकी ठिकानों के बारे में जानकारी दी थी.

NTRO की इस रिपोर्ट के बाद अब विपक्ष ने नेताओं को करारा जवाब मिला है. इस रिपोर्ट के बाद अंदाजा लगाया जा सकता है कि इस एयरस्ट्राइक में कितने आतंकी ढेर हुए होंगे.

कल ही इस एयर स्ट्राइक पर बात करते हुए वायुसेना प्रमुख के कहा हमने अपना टारगेट हिट किया है. लाशों को गिनना हमारा नहीं, सरकार का काम है. उन्होंने ये भी कहा कि अगर हमला जंगलों पर हुआ होता तो पाकिस्तान की तरफ से अगले दिन जवाबी कार्यवाई क्यों होती.

आपको बता दें विपक्ष लगातार मोदी सरकार पर निशाना साध रहा है. कांग्रेस और टीएमसी की तरफ से भारतीय वायु सेना की कार्रवाई के सबूत मांगे जा रहे हैं.

पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने मोदी सरकार से पूछा कि बालाकोट में 300 आतंकी मारे गए थे या 300 पेड़ उखाड़े गए. विपक्ष के हमलों का जवाब देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भारतीय वायुसेना पर शक करना आश्चर्य की बात है.

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.