Onam 2021 Date, Images, Photos, Wallpapers in Hindi: ओणम 2021 की तारीख व महत्त्व से लेकर जानें इस पर्व का इतिहास

JBT Staff
JBT Staff August 21, 2021
Updated 2021/08/21 at 9:04 AM

Onam 2021 Date, Images, Photos, Wallpapers in Hindi: ओणम पर्व राजा महाबली को समर्पित है जिसकी श्रावण व भाद्रपद माह में दस दिन तक धूमधाम रहती है. केरल के किसान इस पर्व को अच्छी फसलों के लिए भी मनाते हैं. वहीं मलयालम कैलेंडर के अनुसार ओणम (Onam) चिंगम माह में मनाया जाता है.

ओणम पर्व (Onam Festival) को लेकर केरल के लोगों के बीच बड़ी आस्था है, नई फसल की बेहतरी के लिए दस दिन तक इस पर्व को जश्न के साथ मनाया जाता है. केरल का प्रसिद्ध सर्प नौका दौड़ जो अक्सर फिल्मों में भी देखने को मिलती है, इसी दिन आयोजित कराई जाती है.

आधे से ज्यादा सावन का महीना अंग्रेजी कैलेंडर के अगस्त माह में पड़ता है जबकि सावन का महीना महादेव का प्रिय महीना माना जाता है तभी सावन के सभी सोमवारों को शिव की विधिवत पूजा आराधना की जाती है और शिवलिंग को जल चढ़ाया जाता है. एकादशी, रक्षा बंधन व जन्माष्टमी के अलावा ओणम भी बड़े पर्वों में से है जो अगस्त में मनाया जाएगा.

कब है ओणम (Onam 2021 Date)

ओणम का पर्व अगस्त के आखिरी तारीखों में या सितंबर की शुरुआत में पड़ता है. मलयालम कैलेंडर चिंगम माह के मुताबिक ओणम महोत्सव इस साल 21 अगस्त को मनाया जायेगा, तिरुओणम नक्षत्र, 20 अगस्त 2021 रात 9 बजकर 24 मिनट पर शुरू हो होगा व अगले दिन 21 अगस्त 2021 रात, 8 बजकर 21 मिनट पर समाप्त हो जाएगा.

केरल में इस पर्व की मान्यता है जिसे दस दिनों तक धूमधाम से मनाया जाता है. महिलाएं व युवतियां पारंपरिक पोशाक पहनकर घर में फूल-ग्रह या पूकलम (Onam Pookalam) बनाते हैं, एक साफ कमरे में वृताकार पैटर्न में फूल सजाए जाते हैं, 8 दिन तक इन्हें सजाया जाता है जबकि नौंवे दिन घर के अंदर भगवान विष्णु की मूर्ति रखी जाती है और उनकी पूजा में घर के लोग एक साथ मौजूद होते हैं. रात में समय श्रावण देवता और गणपति की पूजा भी होती जबकि 10वें दिन मूर्ति विसर्जन होता है.

ओणम इमेज एंड वॉलपेपर्स (Onam 2021 Images, Wallpapers)

ओणम देश के बेहद खूबसूरत पर्वों में से एक है, एक तरफ जहां महिलाओं में सज संवर कर पुक्कलम बनाने का तो पुरुषों में नौका दौड़ का चलन है, तस्वीरों में इस पर्व की खूबसूरती साफ झलक रही है.

महिलाओं व युवतियों द्वारा ओणम में बनाया जाता है पुक्क्लम (फूलों की वृताकार रंगोली)

क्या है ओणम का इतिहास व महत्व (Onam Significance)

पौराणिक कथाओं के मुताबिक केरल के राजा महाबली के दौर में यहां के लोगों ने सबसे अच्छा समय देखा था, यहां के प्राकृतिक सौंदर्य व उपज ने एक तरह से लोगों को संपन्न बनाया था. राजा महाबली का समय पूरा होने के बाद भगवान विष्णु ने उसे जाने की इजाजत तो दी लेकिन साल में एक बार धरती पर या कहें जिस केरल की धरती पर उसने शासन किया था यहां आने की अनुमति दी. इसी कारण राजा महाबली के स्वागत में यह पर्व स्वागत पर्व के तौर पर मनाया जाता है.

केरल में धूमधाम व स्वादिष्ट पकवानों के साथ मनाया जाता है ओणम
ओणम पर्व पर पुरुषों के बीच होता है नौका दौड़ का रोमांचक मुकाबला

ओणम 2021 शुभ संदेश (Onam 2021 Wishes, Greetings)

उम्मीद करते हैं ओणम का यह खुशी का त्योहार आपकी जिंदगी में हरियाली लाए, Happy Onam 2021

राजा महाबली के घर वापसी के पर्व पर सजे हैं सबके द्वार
रंगों और रोशनी से जगमगाया है त्योहार
चेहरे पर छाई है सबकी खुशी की बौछार
यूहीं सभी की जिंदगी में बना रहे प्यार
हैप्पी ओणम (Happy Onam 2021)

साड़ियों में सजी हैं घर की देवियां
पुरुषों की चल रही है नौका दौड़
पर्व ओणम की मची है धूम धाम दूर शहर
पूकलम के डिजाईन से सजे हैं सबके घर

स्वागत है राजा महाबली का ओणम पर
उनके लिए रंगोली से सजे हैं आगन
झूम रहा है हर शख्स का मन
बने हैं रसोई में कई पकवान
Happy Onam 2021

देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से लेकर कई बड़ी हस्तियों ने इस बड़े पर्व की शुभकामनाएं दी हैं:

https://twitter.com/rashtrapatibhvn/status/1428915689562066949

TAGGED:
Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.