Festival

गुरु पूर्णिमा 2019: गुरु पूर्णिमा पर ग्रहण का साया, इस समय लग जाएगा चंद्रग्रहण का सूतक

गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) 2019: इस बार गुरु पूर्णिमा 16 जुलाई को है, पिछली बार की तरह इस बार भी गुरु पूर्णिमा के दिन चंद्रग्रहण (Lunar Eclipse) पड़ रहा है. चंद्रग्रहण के साये की वजह से कई अनुष्ठान आज या कहें एक दिन पहले ही शुरू हो जायेंगे.

चंद्रग्रहण सूतक की वजह से मंगलवार शाम 4:30 से मंदिरों के कपाट बंद हो जायेंगे. आपको बता दे गुरु पूर्णिमा का ओकेजन पूरी तरह अध्यात्मिक और शैक्षिक गुरुओं को समर्पित है इसलिए इसे एक महापर्व के तौर पर मनाया जाता है.

धार्मिक संस्थानों व मंदिरों में रविवार से ही पूजा अर्चना की तैयारियां हो चुकी हैं, गुरु पूर्णिमा के दिन या कहें मंगलवार शाम साढ़े चार बजे मंदिर के कपाट इसलिए बंद होंगे क्योंकि 9 घंटे पहले चंद्रग्रहण पर सूतक लग जाएगा.

चंद्रग्रहण की समयावधि की बात करें तो 2 घंटे 59 मिनट तक लगा रहेगा. 16 जुलाई की देर रात को चंद्रग्रहण लगेगा, समय 1:31 बजे से 4:30 बजे रहेगा. चंद्रग्रहण के दौरान किसी भी तरह का शुभ कार्य करना सही नहीं माना जाता है, हिन्दू धर्म के अनुसार चंद्रग्रहण को अनहोनी भरा समय भी माना जाता है.

शुभ कार्यों के अलावा चंद्रग्रहण के सूतक समय में खाना पकाना और खाना भी अशुभ माना जाता है. माना जाता है कि गर्भवती महिलाओं को इस दौरान घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए, हालांकि वह इस दौरान फल या सात्विक भिजन का ग्रहण कर सकते हैं.

सूतक काल के वक्त मंदिरों में ना जाएं, पूजा अर्चना ना करें, तुलसी के पौंधों और मूर्तियों को ना छुएं. अब सवाल उठता है इस दौरान करना क्या है, भगवान के नाम का जप करें, धार्मिक किताबें पढ़ें जबकि ग्रहण खत्म होने के बाद गंगाजल छिडकें और नहाना, धोना, पूजा पाठ शुरू करें, ताजा भोजन बनाएं व ग्रहण करें.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

To Top