Exams

सीबीएसई 10वीं गणित परीक्षा पैटर्न में बड़ा परिवर्तन, होगा 2 प्रश्न पत्रों का विकल्प

Major changes in CBSE Class 10th Maths Exam Pattern 2019: पढ़ें पूरा पोस्ट की क्या बदलाव हुए हैं इस बार मैथ्स के पेपर के लिए..

CBSE Class 10th Math Exam Pattern

सीबीएसई 10वीं व 12वीं बोर्ड परीक्षा के शेड्यूल में तो परिवर्तन आया ही साथ ही दसवीं के छात्रों के लिए सर दर्द का विषय बने गणित के लिए 2 प्रश्न पत्रों का विकल्प होने जा रहा है.

जी हाँ जो छात्र आगे जाकर मैथ्स छोड़ना चाहते हैं या कहें हाईस्कूल के बाद गणित छोड़कर अन्य विषयों पर ज्यादा फोकस करना चाहते हैं उनके लिए केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड एक सौगात लाने जा रहा है.

इसमें कोई दोहराय नहीं है कि तमाम छात्रों का हाईस्कूल का रिजल्ट मैथमेटिक्स की वजह से खराब हो जाता है.

2019 के 10 वीं बोर्ड के लिए जब रजिस्ट्रेशन चालू होंगे तो गणित विषय के कॉलम में दो तरह के आप्शन होंगे, जिन छात्रों को हायर स्टडी मैथमेटिक्स में नहीं करनी है वो सरल प्रश्न पत्र का विकल्प चुन सकते हैं.

ध्यान रहे सोच समझकर पहले निर्णय कर लें कि आगे आप मैथ्स में दिलचश्पी रखते हैं या नहीं, क्यूंकि एक बार अगर आपने सरल प्रश्न पत्र में परीक्षा उतीर्ण की तो आपकी मैथ्स छूट जाएगी जबकि हार्ड पेपर वाले के पास मैथ्स छोड़ने या ना छोड़ने का विकल्प रहेगा.

इस बात का फैसला अब पहले से बना के रखना होगा कि स्टैण्डर्ड लेवल या एकजेस्टिंग लेवल मैथमेटिक्स, परीक्षा भी पहले की तुलना में अब जल्दी शुरू व खत्म हो रही है अतः सोचने का समय कम है.

जैसा कि हाल ही में केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की अधिकारिक सूचना के मुताबिक परीक्षा मिड फरवरी से शुरू होने जा रही हैं हालांकि फरवरी में सिर्फ वोकेशनल परीक्षाओं का समापन होगा जबकि मुख्य परीक्षाएं मार्च में शुरू होंगी.

अक्टूबर 2018 की पहली सप्ताह में समय सारिणी लांच हो जाएगी और यह बात कनफर्म्ड भी हो जाएगी कि वाकई 10वीं बोर्ड की गणित परीक्षा पैटर्न में बड़ा परिवर्तन हुआ या नहीं.

दिल्ली हाई कोर्ट द्वारा सीबीएसई  को निर्देश दिए गये हैं कि दाखिले के लिहाज से परीक्षा, मूल्यांकन, परीक्षा परिणाम की देरी को सुलझाएं जिसके चलते बोर्ड पीआरओ रमा शर्मा ने परीक्षाएं जल्द शुरू करने की घोषणा की है.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *



To Top