Education

जानें JEE Main 2019 टॉपर शुभन श्रीवास्तव के बारे , कैसे हासिल किया सर्वश्रेठ स्थान ?

JEE Main Topper 2019: देश के बड़े प्रवेश परीक्षाओं में से एक है JEE मेन, लाखों उम्मीद्वार इंजीनियरिंग की पढाई का सपना पालते हैं और अच्छे संस्थानों और विश्वविद्यालयों में प्रवेश हेतु इस परीक्षा की तैयारी करते हैं.

12th तक जिस छात्र के कांसेप्ट क्लियर हों वही इस एग्जाम में अच्छा स्कोर कर सकता है, बात आती है टॉपर की तो अवश्य ही वही छात्र यह कारनामा कर सकता है जिसे 12वीं तक की बेसिक से लेकर हर चैप्टर से पहले के उदाहरण तक सही से क्लियर होंगे.

जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम (Joint Entrance Exam) परीक्षा साल में दो बार आयोजित करायी जाती है, PCM ग्रुप के छात्र इस परीक्षा को 12 के बाद या 12वीं के दौरान अप्लाई करते हैं, इंजीनियरिंग में रूचि रखने वाले छात्रों के लिए यह बड़ा एग्जाम है.

यह भी पढ़ें:  CBSE Board Exam 2021: आम जनता के बाद दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने की केंद्र से मांग, टाली जाए बोर्ड परीक्षा

राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (National Test Agency- NTA) द्वारा JEE Main परीक्षा अप्रैल सीजन 7 अप्रैल से 12 अप्रैल तक आयोजित किए गये थे. जिसका परिणाम 29 अप्रैल की शाम को जारी हो चुका है. इससे पहले NTA द्वारा यह प्रवेश परीक्षा, जनवरी में आयोजित की गयी थी.

बात करते हैं जेईई मेन अप्रैल 2019 के टॉपर की:

इस बार टॉप किया है शुभन श्रीवास्तव ने जो दिल्ली से हैं. मीडिया से मुखातिब होने के बाद शुभन अपनी सफलता का क्रेडिट फैमिली, गुरुजनों और उन सब लोगों को देते है जो उन्हें बेहतर करने के लिए प्रेरित करते हैं.

आगे क्या करना चाहते हैं शुभन:

यह भी पढ़ें:  CBSE Board Exam 2021: आम जनता के बाद दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने की केंद्र से मांग, टाली जाए बोर्ड परीक्षा

शुभन श्रीवास्तव कंप्यूटर साइंस (Computer Science) में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं. दो भाई बहनों में से छोटे हैं शुभन, बड़ी बहन भी बहुत होनहार हैं तथा IIT दिल्ली से पढाई कर रहे हैं.

शुभन का कहना है, बड़ी बहन के मार्गदर्शन से उन्हें परीक्षा में बहुत मदद मिली, उन्हीं की वजह से ही 11वीं से कड़ी मेहनत शुरू कर दी थी.

जूनियर्स को शुभन की सलाह:

उन्होंने आगे तैयारी करने वाले छात्रों को सलाह दी है कि वे ग्यारहवीं से ही तैयारी शुरू कर दें, जैसे उन्होंने खुद बड़ी बहन की सलाह से किया था. उन्होंने बताया कि वह रोजाना 3-4 घंटे पढाई करते हैं.

यह भी पढ़ें:  CBSE Board Exam 2021: आम जनता के बाद दिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने की केंद्र से मांग, टाली जाए बोर्ड परीक्षा

पढाई के दबाव में कैसे रखते थे खुद को तनावमुक्त:

अच्छा पढने और सीखने के लिए तनावमुक्त होना बहुत जरुरी है, पढाई को बोझ समझ कर कभी भी बड़े एग्जाम क्लियर नहीं होते. अतः शुभन खुद को तनावमुक्त रखने के लिए चेस (Chess) खेला करते हैं  और स्टोरीज पढना भी पसंद करते हैं.

ये हैं टॉप 3 JEE Main टॉपर्स:

शुभन दिल्ली से हैं जो पहले स्थान पर हैं, दूसरे नम्बर पर कर्नाटक के केविन मार्टिंन, मध्य प्रदेश के ध्रुव अरोड़ा तीसरे स्थान पर जबकि पंजाब के जयेश सिंगला चौथे स्थान पर हैं.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top