96 वर्षीय कार्तियानी अम्मा ने साक्षरता परीक्षा की टॉप, स्कोर सुनकर चौंक जायेंगे आप

JBT Staff
JBT Staff November 1, 2018
Updated 2018/11/01 at 11:13 AM
Karthyayani Amma

कार्तियानी अम्मा उस समाज के लिए आइना हैं जहाँ लोग उम्र का बहाना बनाकर कार्यों को करने में खुद को दुर्बल व अक्षम बताते हैं, उन्होंने साबित किया है कि उम्र वाकई महज एक संख्या है और जो व्यक्ति मन से हार जाता है, स्वतः ही तन से भी हार जाता है.

देश के केरल राज्य में साक्षरता का पैमाना टॉप पर है. वहीं 96 वर्षीय कार्तियानी अम्मा ने लिटरेसी मिशन के अधीन अक्क्षरलक्षम साक्षरता कार्यक्रम में हिस्सा लेकर पुरे हिंदुस्तान को बताया कि बच्चे व जवान ही नहीं बल्कि बड़े बुजर्ग सभी में वहां सीखने की बहुत लगन है.

साक्षरता कार्यक्रम में बढ़ चढ़कर और भी उम्रदराज लोगों ने हिस्स लिया था, कार्तियानी अम्मा ने इस देश की तरक्की वाले मिशन में सिर्फ हिस्सा ही नहीं लिया बल्कि अव्वल स्थान पाकर देशभर से सुर्खिया बटोर ली हैं. अब बात करते हैं उनके द्वारा अर्जित किये गये अंकों की, केरल के अक्क्षरलक्षम साक्षरता कार्यक्रम में परीक्षा को 100 अंकों रखा गया और इसमें कार्तियानी अम्मा ने 98 अंक या कहें 98 प्रतिशत का स्कोर कर टॉप कर दिया.

42 हजार 993 लोगो ने परीक्षा दी और टॉप किया 96 वर्षीय कार्तियानी अम्मा ने, यह वाकई प्रेणा की बात है. अगस्त, 2018 में इस परीक्षा का आयोजन किया गया था जिसका परिणाम हाल ही में जारी किया गया, उत्तीर्ण होने के लिए यहाँ भी मात्र तीस अंक हासिल करने थे लेकिन अम्मा ने इसके तीन गुने से भी ज्यादा का स्कोर हासिल किया, जो आज सुर्खियों की हेडलाइंस बना हुआ है.

उप राष्ट्रपति एम वेंकाया नायडू ने अम्मा की प्रशंसा करते हुए कहा कि और भी बड़े और उम्रदराज लोगो को उनसे प्रेणा लेनी चाहिए. केरला स्टेट लिटरेसी मिशन अथॉरिटी (KSLMA) का उद्देश्य अक्क्षरलक्षम साक्षरता कार्यक्रम के अन्तर्गत राज्य में शत प्रतिशत साक्षरता का है.

Share this Article
2 Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published.