Bollywood

अमिताभ बच्चन के जन्मदिन पर जानिए उनसे जुड़ी ये 5 अनसुनी बातें

Happy Birthday Amitabh Bachchan

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन आज अपना 76वां जन्मदिन मना रहे हैं. 76 साल के अमिताभ में आज भी इतनी एनर्जी और जज्बा है, जो 25 साल के युवा लड़कों में भी देखने को नहीं मिलता. अमिताभ आज जहां भी हैं, वहां तक पहुंचने का लोग केवल सपना ही देख पाते हैं. बॉलीवुड में आए हुए बिग बी को 50 साल पूरे हो गए हैं.

अब तक अमिताभ ने लगभग 200 फिल्मों में काम किया है. बड़े पर्दे के अलावा बच्चन छोटे पर्दे के भी किंग हैं. उनके द्वारा होस्ट किया जाने वाला शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ आज भी लोगों की पहली पसंद बना हुआ है. क्यूंकि आज बच्चन का जन्मदिन है, तो अपने पाठकों के लिए हम उनसे जुड़ी कुछ ऐसी बातें बता रहें हैं, जो आपने शायद पहले कहीं न सुनी हो.

प्रधानमंत्री की सिफारिश पर मिला था बॉलीवुड में काम

मुंबई आने से पहले अमिताभ कोलकाता में एक शिपिंग कम्पनी में नौकरी करते थे. एक्टिंग का भूत उन्हें मुंबई खींच लाया. ऐसा माना जाता है कि अमिताभ के परिवार के तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और उनके बेटे राजीव गांधी के साथ अच्छे संबंध थे. मुम्बई आने के बाद बच्चन ने काफी स्ट्रगल किया. फिर इंदिरा गांधी की सिफारिश पर उन्हें के. ए अब्बास की फिल्म सात हिन्दुस्तानी में मौका मिला. इस फिल्म के लिए अमिताभ को बेस्ट डेब्यू एक्टर का नेशनल अवार्ड भी मिला था.

यह भी पढ़ें:  नेगेटिव रिव्यूज के बावजूद बॉक्स ऑफिस पर छाई हुई है केदारनाथ, जानें दूसरे दिन की कमाई

75% फीसदी लीवर है खराब

एक इंटरव्यू के दौरान बिग बी ने बताया था कि हेपेटाइटिस वायरस के कारण उनका लीवर 75% खराब हो चुका है. उन्होंने बताया था कि फिल्म कुली की शूटिंग के दौरान वह एक हादसे का शिकार हो गए थे. इस जानलेवा हादसे के इलाज के दौरान उन्हें लगभग 60 युनिट खून चढ़ाया गया था. उस दौरान उन्हें एक ऐसे शख्स का खून चढ़ा दिया गया, जिसे हेपेटाइटिस की बीमारी थी. तब बच्चन के खून में भी ये वायरस फेल गया.

तीन साल तक सांसद रहे

बच्चन और गांधी परिवार काफी करीबी रहे हैं. 1984 में इंदिरा गांधी की हत्या के बाद राजीव गांधी के कहने पर अमिताभ ने यूपी की इलाहाबाद सीट से चुनाव लड़ा. अपनी पॉपुलैरिटी के दम पर बच्चन ने दिग्गज नेता हेमवती नंदन बहुगुणा को बड़े अंतर से हराया. लगभग तीन साल तक सांसद का पद सँभालने के बाद अमिताभ ने इस्तीफा दे दिया था. अमिताभ ने खुद माना था कि राजनीति उनके बस की बात नही है.

यह भी पढ़ें:  हिमांश कोहली से ब्रेकअप के बाद नेहा कक्कर ने किए इमोशनल पोस्ट्स, कहा वो बिल्कुल टूट चुकी हैं

अपनी कंपनी खोली और सड़क पर आ गए

1995 में अमिताभ बच्चन ने ‘अमिताभ बच्चन कारपोरेशन लिमिटेड’ नाम से कंपनी खोली. इस कंपनी के तहत उन्होंने फिल्म प्रोडक्शन, इवेंट मैनेजमेंट का काम शुरू किया. तीन साल में इस कंपनी ने काफी फिल्में बनाई और मिस वर्ल्ड इवेंट भी आयोजित किया. तीन साल में कंपनी बड़े नुकसान में आ गई और देखते ही देखते अमिताभ सड़क पर आ गए. उन्हें अपने बंगले से लेकर काफी कुछ गिरवी रखना पड़ा था.

आधी अफगानी सेना ने की थी अमिताभ की सुरक्षा

1992 में आई अमिताभ बच्चन और श्रीदेवी की फिल्म ‘खुदा गवाह’ बॉक्स ऑफिस पर ब्लॉकबस्टर साबित हुई थी. इस फिल्म की शूटिंग भारत, अफगानिस्तान, नेपाल और भूटान में हुई थी. अमिताभ उन दिनों बहुत बड़े स्टार थे. अफगानिस्तान में फिल्म की शूटिंग के दौरान वहां के तत्कालीन प्रधानमंत्री नजीबुल्लाह ने देश की आधी सेना को बच्चन की सुरक्षा में लगा दिया था. आपको बता दें कि ये अफगानिस्तान में बॉलीवुड की सबसे पॉपुलर फिल्म है.

यह भी पढ़ें:  वायरल विडियो: ईशा अंबानी की शादी में अमिताभ, शाहरुख़, आमिर ने मेहमानों को परोसा खाना

सदी के महानायक को हमारी टीम की तरफ से जन्मदिन की ढेरों शुभकामनाएं. आप भी अपनी शुभकामनाएं कमेंट्स में सांझा कर सकते हैं.

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top