Bollywood

साउथ की बड़ी एक्ट्रेस कीर्ति सुरेश अजय देवगन की इस स्पोर्ट्स बायोपिक फिल्म से करेंगी डेब्यू

Keerthy Suresh Bollywood debut: अजय देवगन जल्द ही फुटबॉलर सैय्यद अब्दुल रहीम की भूमिका निभाते हुए नजर आएंगे. इस फिल्म के लिए साउथ की बड़ी एक्ट्रेस कीर्ति सुरेश को साइन कर लिया गया है.

इस साल एक्टर अजय देवगन काफी बिजी रहने वाले हैं. उनकी इस साल तीन फ़िल्में टोटल धमाल (22 फरवरी), दे दे प्यार दे और तानाजी रिलीज होनी है.

इसके अलावा अजय अगले साल रिलीज होने वाली अपनी फिल्मों की शूटिंग में भी बिजी रहेंगे. इसमें से एक फिल्म फुटबॉलर सैय्यद अब्दुल रहीम की बायोपिक है. इस फिल्म की घोषणा पिछले साल ही हो गई थी. अब इस फिल्म को लेकर एक बड़ी खबर सामने आई है.

खबर ये है कि इस फिल्म के लिए लीड एक्ट्रेस का नाम फाइनल हो गया है. मुबंई रिपोर्ट की खबर  के मुताबित अजय की इस बायोपिक फिल्म में साउथ की जानी मानी हीरोइन कीर्ति सुरेश नजर आने वाली है.

यह भी पढ़ें:  Happy Birthday Aamir Khan: 54 के हुए आमिर खान, एक नजर उनके मिस्टर परफेक्शनिस्ट बनने तक के सफर पर

रिपोर्ट्स की मानें तो कीर्ति इस फिल्म में अजय देवगन की पत्नी का किरदार निभाएंगी. एक एंटरटेनमेंट वेबसाइट से बात करते हुए कीर्ति ने कहा कि भारतीय इतिहास में सैय्यद अब्दुल रहीम का नाम धुंधला हो चुका है और मैं खुश हूं कि निर्माता इस फिल्म के जरिए उनकी कहानी को बयान करने वाले है.

जल्द शुरू होगी फिल्म की शूटिंग

फिल्‍म को डायरेक्‍टर अमित शर्मा ने कहा कि फिल्‍म के साथ पूरा न्‍याय हो सके इसके लिए हॉलिवुड से स्‍पोर्ट्स कोरियोग्रफर को बुलाया गया है. इसके अलावा फिल्म के एक्टर्स को ट्रेन करने और फुटबॉल स्किल्स सिखाने के लिए प्रोफेशनल फुटबॉल प्लेयर्स से ट्रेनिंग ली जाएगी.

डायरेक्टर के मुताबित फिल्‍म की शूटिंग जून माह से शुरू हो जाएगी. इसकी लोकेशन्‍स के लिए फिलहाल मुंबई, कोलकाता, हैदाराबाद और दिल्‍ली को चुना गया है.

यह भी पढ़ें:  काला हिरण केस: जोधपुर हाईकोर्ट ने सैफ अली खान, तब्बू समेत पांच को भेजा नोटिस

ओरिजिनल दिखने के लिए फुटबॉल स्टेडियम में भी शूट किया जाएगा. अमित शर्मा ने कहा कि फिल्‍म में विजुअल इफेक्‍ट्स के जरिए 1950 और 1960 के वक्‍त को दिखाने का प्रयासा किया जाएगा.

कौन है सैय्यद अब्दुल रहीम

सैय्यद अब्दुल रहीम पूर्व इंडियन फुटबॉल टीम कोच और मैनेजर थे. अब्दुल रहीम को मॉडर्न इंडियन फुटबॉल के वास्तुकार के रूप में जाना जाता है. कोच के रूप में उनका करियर इंडियन फुटबॉल का गोल्डन पीरियड माना जाता है.

उनकी कोचिंग में ही भारत ने दो बार एशियन गेम्स (1951 और 1962) जीते. इसके अलावा उनके मार्गदर्शन में इंडियन फुटबॉल टीम 1956 के मेलबर्न ओलिंपिक के फाइनल में पहुंची. अब्दुल रहीम के अंडर में भारतीय फुटबॉल ने नयी ऊंचाईयां छुई.

यह भी पढ़ें:  धोखाधड़ी मामले में हाईकोर्ट ने लगाई सोनाक्षी की गिरफ्तारी पर रोक, जानिए क्या है पूरा मामला

कीर्ति सुरेश की फोटोज उनके ट्विटर से:

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *


To Top