गोविंदा पर भड़के कादर खान के बेटे सरफ़राज, कहा- ‘अंतिम वक्त में एक बार भी नहीं पूछा..और अब..’

Umesh
Umesh January 3, 2019
Updated 2019/01/03 at 7:58 PM

दिग्गज एक्टर और संवाद लेखक कादर खान का 31 दिसम्बर को निधन हो गया था. उनके निधन के बाद गोविंदा सहित कई बॉलीवुड सेलिब्रिटीज ने ट्विटर पर दुःख जताया और उनके परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त की.

दिग्गज एक्टर और संवाद लेखक कादर खान का सोमवार को कनाडा में निधन हो गया. 81 साल के कादर पिछले काफी समय से बीमार चल थे. कादर खान के निधन पर अमिताभ बच्चन, गोविंदा समेत कई सेलिब्रिटीज ने ट्विटर पर दुख जताया लेकिन इसमें भी कोई दोराय नहीं कि कादर खान के साथ काम करने वाले कई सेलिब्रिटीज ने उनके आखिरी समय में उनका हालचाल तक नहीं लिया.

अब इसी मुद्दे पर कादर खान के बेटे सरफ़राज़ ने गोविंदा सहित इंडस्ट्री के लोगों पर अपनी भड़ास निकाली है. सरफ़राज़ ने इंडस्ट्री के लोगों को दोगला बताया है.

एक न्यूज एजेंसी से बात करते हुए सरफराज ने कहा कि ‘पापा फिल्म इंडस्ट्री में अमिताभ बच्चन को सबसे ज्यादा प्यार करते थे. जब मैं अपने पिता से पूछता था कि वो किसे सबसे ज्यादा याद करते हैं तो वो बच्चन साहब का नाम लेते थे. अमिताभ बच्चन की ओर से भी ऐसा ही था. मेरे पिता ने अपने आखिरी वक्त में उनसे बात की थी.’

गोविंदा की बात करते ही सरफ़राज़ भड़क गए. सरफराज ने कहा कि ‘कृपया गोविंदा से पूछिए कि उन्होंने आखिरी वक़्त में मेरे पिता के बारे में कितना बार पुछा था. क्या उन्होंने पिता के निधन के बाद एक बार भी हमें फोन किया?’

सरफ़राज ने आगे कहा, ‘फिल्म इंडस्ट्री में लोग बोलते कुछ और हैं और करते कुछ और हैं. आज जो टॉप एक्टर्स हैं वो पुराने एक्टर्स के साथ तस्वीरों में तो दिखते हैं लेकिन ये प्यार केवल तस्वीरों तक ही सीमित है. इससे ज्यादा कुछ नहीं. मेरे पिता भाग्यशाली थे कि उनके तीनों बेटों ने उनका ध्यान रखा लेकिन उनका एक्टर्स और कलाकारों का क्या जिन्होंने आखिरी दिनों में कठिनाईयों के बीच जिंदगी बिताई.’

आपको बता दें कि गोविंदा और कादर खान की जोड़ी बॉलीवुड की सबसे मशहूर जोड़ियों में से एक थी. इस जोड़ी ने 90 के दशक में कई सुपरहिट कॉमेडी फ़िल्में दी. कादर खान कभी गोविंदा के पिता बने तो कभी ससुर. डेविड धवन की कई नंबर 1 टाइटल वाली फिल्मों में दोनों ने साथ काम किया.

आपको बता दें कि कादर खान के निधन के बाद गोविंदा ने ट्वीट किया था कि ‘वो मेरे उस्ताद ही नहीं बल्कि पिता के समान थे. उनके जाने से मैं बहुत दुखी हूं और फिल्म जगत का हर शख्स दुखी है.’

Share this Article
Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.